Benefits of yoga in hindi योग करने के 30 फायदे

Benifits of yoga in hindi

Benefits of yoga जिन्हें जानकर आप योग को जीवन का अनिवार्य हिस्सा बना लेंगे –

Benefits of yoga in hindi योग वर्तमान की सबसे बहुमूल्य विरासत है। अंग्रेजी में एक कहावत है, हेल्थ इज़ वेल्थ (health is wealth) यानी स्वास्थ्य ही धन है।

अगर स्वास्थ्य अच्छा हो तो धन कभी भी कमाया जा सकता है। मगर आज के ज़माने में हम अपने स्वास्थ्य को दरकिनार कर सिर्फ पैसा कमाने की होड़ में लगे रहते हैं।

फिर बीमार होने पर सारा पैसा अस्पतालों में जमा करना होता है । समय रहते हेल्थ के लिए जागरूक होना जरूरी है । आज शरीर सक्षम है यदि योग करेंगे तो जीवन भर स्वस्थ्य रहेंगे नही तो डॉक्टर की सलाह से आज नही तो कल योग तो करना ही होगा

योग सिर्फ एक शारीरिक व्‍यायाम ही नहीं है। यह हमें शारीरिक एवं मानसिक तथा भावनात्मक रूप से स्वस्थ्य बनाता है ।दरअसल, योग से सिर्फ शरीर, मांसपेशियों व हड्डियों की कसरत ही नहीं होती,

बल्कि इससे आंतरिक अंगों और शरीर की अपने-आप चलने वाली प्रणालियों की भी कसरत होती है।

इतनी गहराई से हमारे शरीर के हिस्सों पर अन्य कोई व्यायाम Exercises काम नही करता है । यह एक ऐसी प्रक्रिया है, जिससे उन चीजों को भी अपने वश में किया जा सकता है, जिस पर अमूमन हमारा कोई जोर या अधिकार नहीं होता।

दूसरे शब्दों में यह कुछ ऐसा ही जैसे आप अपनी शारीरिक प्रणाली पर इतनी कुशलता हासिल कर लें कि आपके भीतर जो बदलाव अनजाने में और जबरदस्ती हो रहे है, वह धीरे-धीरे सचेतन होने लगे। यह जीवन में होश और जागरूकता पैदा करता है

अच्छा है आज से ही किसी अनुभवी योग प्रशिक्षक या इंस्टिट्यूट में एडमिशन लेकर अपने आने वाले मजबूत भविष्य की नींव रखें ।

योग के प्राचीन ग्रन्थों में से एक पतंजलि योग सूत्र के अनुसार, योग मन के उतार-चढ़ाव को शांत करता है। सामान्य बोलचाल के शब्दों में, यह निराशा, खेद, क्रोध, भय को हमसे दूर करता है ।

Benefits of yoga in hindi

वो कहते हैं न ‘योगा से ही होगा’, यह बात शत- प्रतिशत सच है। योग के लाभ अनेक हैं। योग में हर बीमारी से बचने का इलाज छुपा है, फिर चाहे वह शारीरिक हो या मानसिक। इतना ही नहीं, बेहतर स्वास्थ्य के लिए योग से अच्छा विकल्प और कुछ नहीं है।

योग को सेहतमंद जीवन के लिए बहुत जरूरी माना जाता है । और हो भी क्यों न आखिर योग के फायदे ही इतने हैं ।लेख के अंत मे फायदों (Benefits of yoga in hindi) के विस्तृत वर्णन भी दिया गया है ।

अक्सर लोग सोच बैठते हैं कि योग केवल शरीर को लचीला बनाने के लिए ही किया जाता है, लेकिन ऐसा नहीं है । योग के ढेरों आसन हैं, जिनके कई फायदे हैं । अनेकों आसाध्य बीमारीयों का उपचार योग के माध्यम से सफलता पूर्वक किया जा रहा है ।

योग के बाहरी लाभ (externel Benefits of yoga in hindi)-

योग की सहायता से आप जीवन भर जवां और स्वस्थ बने रह सकते हैं । यह जड़ से बीमारियों को मिटाता है और यदि बीमारी नही है तो शरीर को ऐसे विकसित करता है कि भविष्य में भी शरीर मे कोई बीमारी न हो ।

शारीरिक दर्द –

जब आप योग करते हैं, तो शुरुआत में इस दर्द को सहने की शारीरिक क्षमता बढ़ने लगती है। साथ ही नियमित अभ्यास के बाद पुराने से पुराना शरीर दर्द Pain कम होने लगता है एवं धीरे धीरे जड़ से खत्म हो जाता है।

योग शरीर में किसी भी तरह के दर्द को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

योग के मानसिक लाभ (Benefits of yoga in hindi for mentol health)-

अध्ययन में पाया गया है कि नियमित योग अभ्यास प्रतिक्रिया ,एकाग्रता, स्मृति आदि में सुधार करता है । आसन और विशेष श्वास तकनीक के उपयोग से दिमाग और शरीर के बीच संबंध में सुधार करता है ।

योग शब्द को केवल व्यायाम से ना जोड़े । यह एक सुंदर अभ्यास है जो आपके मानसिक स्वास्थ्य(mentol health) को बनता है, यह शारीरिक स्वास्थ्य को स्थिर करता है.

और हमारा आध्यात्मिक विकास करता है। योग मानवता के लिए एक चमत्कारी वरदान है।

योग के आध्यात्मिक लाभ-

इनके अलावा योग के कई आध्यात्मिक लाभ भी हैं। इनका विवरण करना आसान नहीं है, क्योंकि यह आपको स्वयं योग अभ्यास करके हासिल और फिर महसूस कर सकते है ।

हर व्यक्ति को योग अलग रूप से लाभ पहुँचाता है। योग के माध्यम से आप अपनी मानसिक, भौतिक, आत्मिक और अध्यात्मिक सेहत में सुधार ला सकते है । शारीरिक और मानसिक उपचार योग के सबसे अधिक ज्ञात लाभों में से एक है।

योग केआन्तरिक लाभ-


योग ख़ास तौर से वहाँ जहाँ आधुनिक विज्ञान आजतक उपचार देने में सफल नहीं हुआ है। वहां भी अपना लाभ प्रदान करता है ।

योग पर रिसर्च करने वाले चिकित्सा वैज्ञानिकों के अनुसार, योग चिकित्सा तंत्रिका और अंतःस्रावी तंत्र में बनाए गए संतुलन के कारण सफल होती है जो शरीर के अन्य सभी प्रणालियों और अंगों को सीधे प्रभावित करती है।

नियमित योगासन करने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। योग हमे पूरे दिन तरोताजा व खुश रहने में मदद करता है। योग ध्यान केंद्रित करने में मददगार होता है ।

योग हमे आंतरिक शक्ति प्रदान करता है। योग करने से हमारा ब्लड शुगर नाॅर्मल रहता है । योग अच्छी और गहरी नींद में सहायक। योग हर तरह की बीमारी व दवाओं से दूर रहने में मदद करता है।

योग इम्यून सिस्टम को बेहतर कर शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। योग एक स्वस्थ जीवनशैली प्रदान करता है।हमारे वजन को संतुलित करता है ।

ओशो ने योग को लेकर बहुत अच्छी बात कही है “योग को धर्म, आस्था और अंधविश्वास के दायरे में बांधना गलत है। योग विज्ञान है, जो जीवन जीने की कला है। साथ ही यह पूर्ण चिकित्सा पद्धति है। जहां धर्म हमें खूंटे से बांधता है, वहीं योग सभी तरह के बंधनों से मुक्ति का मार्ग है।”

10 Benefits of yoga in hindi -:

1.योग करने से रक्त का प्रवाह पुरे शरीर में अच्छी तरह होता है। इससे सभी अंगों को पर्याप्त ऑक्सीजन और पोषक तत्व मिलते हैं ।

2.योग पाचन तंत्र को बेहतर करता है, जिससे कब्ज, गैस और एसिडिटी जैसी समस्याएं जड़ से खत्म हो सकती हैं। जिसके कारण आप तरोताज़ा महसूस करते है ।

3.योग रक्तचाप सन्तुलन में मदद करता है,
प्राणायाम करने से शरीर को पर्याप्त मात्रा में ऊर्जा मिलती है और तंत्रिकाओं की कार्यप्रणाली में सुधार होता है। साथ ही ह्रदय गति सामान्य होती है।

4.योग श्वसन तंत्र को मजबूती प्रदान करता है । जब आप योग करते हैं, तो फेफड़े पूरी क्षमता के साथ काम करने लगते हैं, जिससे सांस लेना आसान हो जाता है।

5.रिसर्च में सिद्ध हुआ है कि योग एचडीएल यानी अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है, जबकि एलडीएल यानी खराब कोलेस्ट्रॉल को खत्म करता है।

6. आप योग करते हैं, तो शुरुआत में इस दर्द को सहने की शारीरिक क्षमता बढ़ने लगती है। साथ ही नियमित अभ्यास के बाद पुराने से पुराना शरीर दर्द कम होने लगता है एवं धीरे धीरे जड़ से खत्म हो जाता है ।

7.योग से रोग प्रतिरोधक प्रणाली बेहतर होती है।

8.योग को करने से थकावट दूर होती है और शरीर नई ऊर्जा का संचार होता है ।

9.योग के जरिए अपच और कब्ज को ठीक कर मेटाबॉलिज्म को आसानी से बेहतर किया जा सकता है।

10.आप नियमित योग करते हैं, तो मन शांत होता है और तनाव से छुटकारा मिलता है, जिससे रात को अच्छी नींद सोने में मदद मिलती है। अच्छी नींद होना अच्छी सेहत की निशानी है ।

11.गलत खानपान के कारण सोडियम की मात्रा शरीर मे बढ़ जाती है । योग में सोडियम की मात्रा को संतुलित करने की क्षमता होती है।

12.नियमित योग व स्वस्थ खानपान से ह्रदय मजबूत रहता है।

13.ट्राइग्लिसराइड्स हमारे रक्त में पाया जाने वाला एक तरह का फैट है, जो ह्रदय रोग व स्ट्रोक का कारण बन सकता है। इसे कम करने के लिए नियमित योग फायदेमंद साबित होता है ।

14.लाल रक्त कोशिकाओं की कमी से एनीमिया तक हो सकता है। योग करने से शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की मात्रा बढ़ने लगती है।

15.अस्थमा रोग होने पर श्वास नली सिकुड़ जाती है, जिससे सांस लेने में परेशानी होती है। जरा-सी धूल-मिट्टी में भी हमारा दम घुटने लगता है। अस्थमा के मरीजों में योग के माध्यम से फेफड़ों की क्षमता बढोतरी रिसर्च में सिद्ध हो चुकी है ।

16.योग मांसपेशियों में आए खिंचाव को कम करता है और सिर तक पर्याप्त में ऑक्सीजन पहुंचती है, जिससे माइग्रेन में एवं सरदर्द में राहत मिलती है।

17.योग्य योग प्रशिक्षक के निरीक्षण में योग करने से अर्थराइटिस की वजह से जोड़ों में आई सूजन और दर्द कम होने लगता है ।

18.केंसर के उपचार के समय कीमियो थेरेपी दी जाती है इस दौरान होने वाली मतली व उल्टी जैसी समस्या से भी योग के माध्यम से निपटा जा सकता है।

19.योग के जरिए कब्ज जड़ से खत्म हो सकती है। योग सबसे पहले पाचन तंत्र को ठीक करेगा, जिससे कब्ज अपने आप ठीक हो जाएगी और आप तरोताजा महसूस करेंगे।

20.योग के जरिए शुक्राणु कम बनने की समस्या, महिला एवं पुरुष यौन रोग संबंधी कोई समस्या, फैलोपियन ट्यूब में आई कोई रुकावट या फिर पीसीओडी आदि की समस्या को ठीक किया जा सकता है।

21.रिसर्च में सिद्ध हुआ है कि साइनस में सांस संबंधी योग यानी प्राणायाम करने से नाक व गले की नलियां में आई रुकावट दूर होती है और सांस लेना आसान हो जाता है।

22.योग्य प्रशिक्षिक की निगरानी में योग करें, तो रीढ़ की हड्डी में लचक आती है, जिससे किसी भी तरह का कमर दर्द (Back pain) दूर किया जा सकता है।

23.योग के माध्यम से समय पूर्व चेहरे पर पड़ने वाली झुर्रियों को कम किया जा सकता है।योग बुढ़ापे को हमसे दूर करता है ।

योग के जरिए शरीर में जमा विषैले पदार्थ व जीवाणु साफ हो जाते हैं और फ्री रेडिकल्स का भी सफाया हो जाता है।

24.शरीर का पूरा भार हमारी कोर पर ही टिका होता है। ये आपको चोट लगने से बचाती हैं। योग करने से कोर में मजबूती आती हैं, लचीलापन आता है और कोर स्वास्थ रहती हैं।

25.जब आप योग करते हैं, तो आप अंदर से पूरी तरह सकारात्मक ऊर्जा (positive energy)से भर जाते हैं। इससे आपका मूड अच्छा होता है

और दिनभर काम में मन लगा रहता है। उत्साहपूर्वक जीवन जीने का आनंद प्राप्त होता है ।

26.नियमित रूप से योग करने से हड्डियां व मांसपेशियां मजबूत होती हैं, शरीर का आकार ,स्ट्रक्चर बेहतर होता है और शारीरिक क्षमता बेहतर होती है।

27.योगासन सिर से लेकर पांव तक शरीर को संतुलित (body menten) बनाता है

28. successका मूल मंत्र काम के प्रति एकाग्रता है। योग एकाग्रता को बढ़ाता है ।

29.योग करने वाला व्यक्ति हर समय एक्टिव रहता है। वह हर बारीक से बारीक चीजों पर भी ध्यान केंद्रित रखता है।

30.योग आपको mentol रूप से इस कदर मजबूत बनाता है कि आप जीवन से जुड़े महत्वपूर्ण निर्णय लेने में स्वयं सक्षम हो जाते हो।

साथ ही योग सिखाता है कि विपरीत हालत में स्वयं को कैसे संतुलित बनाए रखना है।

(लेख प्रयोजक उज्जैन योग इंस्टिट्यूट 9977383800)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top